मध्य प्रदेशराज्य

उछलकर बांध में समा गई बस

2Views
  • 00-bus40 में 10 मरे…17 घायल….शेष लापता
  • विदिशा के समीप हुआ हादासा
  • शमशाबाद से लटेरी जा रही थी श्री टे्रवल्स की बस

विदिशा, मप्र । विदिशा के पास पुल पार कर रही बस उछलकर बांध में समा गई। इस हादसे में जहां 11 लोगों की मौत हो गई है। वहीं घायल हुए 17 लोगों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। शमशाबाद से लटेरी जा रही इस बस में 40 लोग सवार थे। शोक जताते हुए मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को 2-2 लाख तथा घायलों को 25 हजार की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है।
इस दुर्घटना के प्रमुख कारण का फिलहाल ठीक-ठीक पता नहीं चल पाया है। लेकिन प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है, कि हादसे के वक्त संजय सागर बाँध पार कर रही बस की रफ्तार काफी तेज थी और पुलिया पर काफी बड़े-बड़े गड्ढें होने के कारण ड्राइवर का बस पर नियंत्रण नहीं रह पाया। लिहाजा बस पुलिया से नीचे गिरकर नदी में समा गई। हादसे की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर उद्यानिकी मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा प्रशासनिक अमले के साथ पहुंचे और गोताखोर और ग्रामीणों की मदद से फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए अभियान चलाया। हादासा हुआ।

परमिट नगर निगम सीमा का बाहर कैसे गई?
घटना के बाद सवाल यह भी उठाए जा रहे हैं, कि 33-2 सीटर बस का परमिट परिवहन विभाग द्वारा नगर निगम सीमा क्षेत्र का दिया गया है। लेकिन यह विषय भी जांच का है, कि यह शहर के बाहर लंबी दूरी की सवारियों का परिवहन कैसे और किसके इशारों पर करने लगी। बस वर्ष 2006 में रजिस्टर्ड कराई गई है।

शिवराज ने जताया शोक
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना पर शोक जताते हुए कहा कि, कि सर्वशक्तिमान ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति और परिजनों को यह वज्रपात को सहन करने की शक्ति देने की करबद्ध प्रार्थना करता हूँ।

भूपेंद्र ने दिए जांच के आदेश
परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने अधिकारियों को इस हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। घटना की जानकारी मिलने के बाद उन्होंने अधिकारियों से 24 घंटे में पूरी रिपोर्ट तलब की है।

सांप की वजह से सड़क पर हादसा
मंदसौर। जिले में सांप की वजह से हुए सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि एक मासूम बच्ची सहित चार लोग घायल हो गए. घायलों में कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार, रविवार सुबह अशोक प्रजापति नाम का युवक अपने बच्चे और दोस्त के साथ दुधाखेड़ी माता मंदिर पर दर्शन करने जा रहा था। इसी दौरान गरोठ कस्बे से तीन किलोमीटर दूर अशोक प्रजापति की बाइक के नीचे सांप आ गया। उस बाइक की गति काफी तेज थी। सांप के बाइक के नीचे आने से अशोक प्रजापति बुरी तरह से घबरा गया। इस वजह से उसकी बाइक अंसतुलित होकर सामने से आ रही एक अन्य तेज रफ्तार बाइक से टकरा गइ। यह हादसा इतना भयावह था कि अशोक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि दोनों बाइक पर सवार कुल चार लोग घायल हो गए।

Leave a Reply